पश्तो

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

संज्ञा

स्त्री.

  1. ... देश/राज्य/प्रांत की भाषा
  2. व्यक्ति

अनुवाद

विशेषण

यह भी देखिए

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

पश्तो संज्ञा पुं॰ [देश॰]

१. ३ । । मात्राओं का एक ताल जिससे दो आघात होते हैं । इसके बोल इस प्रकार हैं—तिं, तक, धिं, धा, गे ।

२. भारत की आर्यभाषाओं में से एक देशी भाषा जिसमें फारसी आदि के बहुत से शब्द मिल गए हैं । यह भाषा भारत की पश्चिमोत्तर सीमा से अफगानिस्तान तक बोली जाती है । उ॰—जैसे पश्चिमी की क्रमशः पुरानी, पारसी, पहलवी वा वर्तमान फारसी और पश्तो आदि हैं ।—प्रेमघन॰, भा॰ २, पृ॰ ३७७ ।