रहस्य

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

संज्ञा[सम्पादन]

  1. राज, गुप्त बात

उदाहरण[सम्पादन]

  1. यह एक बहुत रहस्यमय घटना है।

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

रहस्य ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. वह बात जो सबको बतलाई न जा सकती हो । गुप्त भेद । गोप्य विषय ।

२. भीतर की छिपी हुई बात । मर्म या भेद की बात ।

३. वह जिसका तत्व सहज में या सब की समझ में न आ सके । उ॰—यह रहस्य काहू नहिं जाना । दिनमनि चले करत गुन गान ।—तुलसी (सब्द॰) । क्रि॰ प्र॰—खुलना ।

४. एकांत में घटित वृत्त, घटना या वार्ता ।

५. हँसी ठट्ठा । मजाक ।

६. एक उपनिषद् (को॰) ।

रहस्य वि॰

१. सबको न बताने योग्य । गोपनीय ।

२. जो एकांत में हुआ हो । जो छिपाकर हुआ हो ।