अटकल

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

संज्ञा

  1. अनुमान, अंदाज

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अटकल संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ अट=घूमना+कल्=गिनना]

१. अनुमान । कल्पना ।

२. अंदाज । तखमीना । कूत । उ॰—वह करोंड़ों रुपए के अटकल अकेले दान विषय में व्यय करना है ।—प्रेमघन॰ भा॰ २, पृ॰ २२८ । क्रि॰ प्र॰—करना ।—बैठना ।—लगाना ।