इशारा

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

संज्ञा पुल्लिंग

  1. संकेत
  2. अंगुल्यादेश

प्रयोग

संबंधित शब्द

अन्य भाषा में

वर्णक्रम सहचर

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

इशारा संज्ञा पुं॰ [अ॰ इशारह्]

१. सैन । संकेत । चेष्टा । उ॰— यूँ आँख इनकी करके इशारा पलट गई । गोया कि लब से होके कुछ इर्शाद रह गया ।—कविता कौ॰, भा॰ ४, पृ॰ ५४८ ।

२. संक्षिप्त कथन । उ॰—जो इशारे मैं काम हो सक्ता तो मुझको इतने बढ़ाकर कहने सै क्या लाभ ।—श्रीनिवास ग्रं॰, पृ॰ २७२ ।

३. बारीक सहारा । सूक्ष्म आधार । जैसे,— एक लकड़ी के इशारे पर यह संदूक ऊपर टिका है ।

४. गुप्त प्रेरणा । जैसे,—इन्हीं के इशारे से उसने यह काम किया । यौ.—इशारेबाजी=इशारा करना ।