ईश्वर

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

संज्ञा[सम्पादन]

पु.

अनुवाद[सम्पादन]

यह भी देखिए[सम्पादन]

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ईश्वर ^१ संज्ञा पुं [सं॰] [स्त्री॰ ईश्वरी]

१. मालिक । स्वामी । प्रभु ।

२. योगशास्त्र के अनुसार क्लेश, कर्म, विपाक और आशय से पृथक् पुरुषविशेष । परमेश्वर । भगवान् । यौ॰—ईश्वरप्रणिधान । ईश्वराधिष्ठान । ईश्वरधिष्ठिन । ईश्वराधीन ।

३. महादेव । शिव ।

४. रामानुजाचार्य के अनुसार तीन पदार्थों में से एक जो संसार का कर्ता, आपादान, अंतर्यामी और ऐश्वर्य तथा विर्य आदि से संपन्न माना जाता है । ( शेष दो पदार्थ चित् और अचित् है) ।

५. राजा ।

६. यति ।

७. पारद । पारा ।

८. पीतल ।

९. कामदेव । पुष्पधन्वा (को॰) । १० एक संवत्सर [को॰] ।

ईश्वर ^२ वि॰ समर्थ । शक्तिमान् । संपन्न ।