कर

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

क्रिया

कुछ कार्य के लिए कहना

संज्ञा

हाथ

अन्य शब्द

  1. करना
  2. करने
  3. करते
  4. करता
  5. करो
  6. करें
  7. करोगे
  8. करेंगे
  9. करेगा
  10. करनी
  11. कराई
  12. कराओ

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

कर ^१ संज्ञा पु॰ [सं॰]

१. हाथ । मुहा॰—कर गहना=(१) हाथ पकड़ना । (२) पणिग्रहण या विवाह करना । कर मलना=हाथ मलना । पश्चाताप करना उ॰—ननद देखि कै रहहि रिसाइ । तब चलिहुहु कर मलि पछिताय ।—जग॰ श॰, पृ॰ ७० ।

२. हाथी की सुँड़ ।

३. सुर्य या चंद्रमा की किरण ।

४. ओला । पत्थर ।

५. प्रजा के उपार्जित धन में से राजा का भाग । मालगुजारी । महसुल । टैक्स । क्रि॰ प्र॰—चुकना ।—चुकाना ।—देना ।—बाँधना ।—लगना ।—लगाना ।—लेना ।

६. करनेवाला । उत्पन्न करनेवाला । विशेष —इस अर्थ में इस शब्द का प्रयोग केवल योगिक शब्दों में होता है, । जैसे,—कल्याणाकर, सुखकर, स्वास्थ्यकर इत्यादि ।

७. छल । युक्ति । पाखंड । जैसे,—कर, बल, छल । उ॰—कीरतन करत कर सपनेहु मथुरादास न मंडियो ।—नाभा (शब्द॰) ।

कर ^२ प्रत्य॰ [सं॰ कृत] का । उ॰—(क) राम ते अधिक राम कर दासा ।—तुलसी (शब्द॰) । (ख) वै सहब कीन्ह जहाँ लगि कोई । वह नहिं कीन्ह काहु कर होई ।—जायसी ग्रं॰, पृ॰ ३ ।