विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

च संस्कृत या हिंदी वर्णमाला का २२ वाँ अक्षर और छठा व्यंजन जिसका उच्चारण स्थान तालु है । यह स्पर्श वर्ण है और इसके उच्चारण में श्वास, विवार, घोष और अल्पप्राण प्रयत्न लगते हैं ।

च ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. कच्छप । कछुआ ।

२. चंद्रमा ।

३. चोर ।

४. दुर्जन ।

५. शिव (को॰) ।

६. चर्वण । भक्षण (को॰) ।

च ^२ वि॰

१. निर्बींज ।

२. बुरा । अधम ।

३. शुद्ध [को॰] ।

च ^३ अव्य॰ [सं॰] और [को॰] ।