विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
अं
क्ष त्र ज्ञ श्र अः
सार्वभौमिक वर्ण समुच्चय
Deva-ā.png
यूनिकोड नाम देवनागरी अक्षर आ
देवनागरी U+0906

हिन्दी

अक्षर

  1. हिन्दी वर्णमाला और देवनागरी लिपि पर आधारित भाषाओं का दूसरा अक्षर। यह का दीर्घ रूप है।

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

आ हिंदी वर्णमाला का दूसरा अक्षर जो 'अ' का दीर्घ रूप है ।

आ चलपल्लु संज्ञा पुं॰ [ हिं आँचल+पल्ला] कपडे के एक छोर पर टँका हुआ चौडा ठप्पेदार पट्टा ।

आ ^१ अव्य॰ [सं॰] एक अव्यय जिस का प्रयोग सीमा, अभिव्यत्कि, ईषत् और अतिक्रमण के अर्थोँ में होता है । जैसे— (क) सीमा- आसमुद्र = समुद्र तक । आमरण =मरण तक । आजानुबाहु = जानु तक लंबी बाहुवाल । आजन्म = जन्म से (ख) अभिव्याप्ति— आपाताल = पाताल के अंतमार्ग तक । आजीवन- जीवन भर । (ग) ईषत् (थोड़ा, कुछ)— आपिंगल = कुछ कुछ पीला । आकृष्ण = कुछ काल । (घ) अतिक्रमण— आकालिक = बेमौसम का ।

आ ^२ उप॰ [सं॰] यह प्राय: गत्यर्थक धातुओं के पहले लगता है औऱ उनके अथों में कुछ थोड़ी सी विशेषता कर देता है; जैसे आपाता आघूर्णन, आरोहण, आकंपन, आघ्राण । जब यह 'गम' (जाना) 'या' (जाना), 'दा' (देना) तथा 'नी' (ले जाना) धातुकों के पहले लगता है, तब उनके अर्थों को उलट देता है; जैसे 'गमन' (जाना) से आगमन (आना), 'नयन' (ले जाना) से 'आनयन' (लाना), 'दान' (देना) से 'आदाम' (लेना) ।

आ ^३ संज्ञा पुं॰ [सं॰] ब्रह्मा । पितामह ।

नेपाली

अक्षर

  1. नेपाली वर्णमाला और देवनागरी लिपि पर आधारित भाषाओं का दूसरा अक्षर। यह का दीर्घ रूप है।

भोजपुरी

अक्षर

  1. भोजपुरी वर्णमाला और देवनागरी लिपि पर आधारित भाषाओं का दूसरा अक्षर। यह का दीर्घ रूप है।

मराठी

अक्षर

  1. मराठी वर्णमाला और देवनागरी लिपि पर आधारित भाषाओं का दूसरा अक्षर। यह का दीर्घ रूप है।

संस्कृत

अक्षर

  1. संस्कृत वर्णमाला और देवनागरी लिपि पर आधारित भाषाओं का दूसरा अक्षर। यह का दीर्घ रूप है।